दिशानिर्देश

भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद (आईसीसीआर) भारत की सॉफ्ट पावर का संवर्धन करने और भारत की सांस्कृतिक कूटनीति के कौशल को बढ़ाने और सभ्यताओं के बीच संवादों को सुदृढ़़ करने के लिए इंडोलॉजी, बौद्ध धर्म सूफीवाद, प्रमुख भारतीय दूरदर्शी, इंडिक भाषाएं और भारतीय संस्कृति, दर्शन और समाज से जुड़े अन्य विषयों पर अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलनों का आयोजन करता है।

ये सम्मेलन अंततः परिषद को भारत की महान सांस्कृतिक और शैक्षिक क्षमता का प्रतीक बने रहने के अपने संकल्प को पूरा करने में सहायक होते हैं। सम्मेलनों और संगोष्ठी के आयोजन और समर्थन/प्रायोजित करने का प्रमुख उद्देश्य भारत की समृद्ध विरासत को बढ़ावा देने और प्रख्यात भारतीय विद्वानों और अंतर्राष्ट्रीय विद्वानों को एक ही मंच पर लाने के माध्यम से एक स्वस्थ संवाद को बढ़ावा देने के लिए इस विचार को बनाए रखना और साझा करना है ।